कभी लाखों दिलों की धड़कन थी ये तीन अभिनेत्रियां, और आज इन्हें पहचान पाना भी हुआ मुश्किल

शेयर करे

फिल्मों में आपको न जाने कितने कलाकार ऐसे मिल जाएंगे, जिन्हें बहुत ही कम समय में शौहरत तो मिल गई, लेकिन वो अपनी शौहरत को संभाल नहीं पाएं, जिसकी वजह से वो आज कहीं गुमनाम सी जिंदगी जीने के लिए विवश हो चुके हैं। बॉलीवुड में स्टारडम पाना और बनाए रखना आसान नहीं हैं। यहां कब किसके सितारे बुलंदी पर पहुंच जाएं और कब गर्दिश में चले जाएं कुछ नहीं कहा जा सकता है। इसके उदाहरण में 90 के दशक की ये अभिनेत्रियां हैं। जो शुरू में अच्‍छी फिल्‍में करने के बाद काफी दिन तक चर्चा में रहीं लेकिन फिर गुमनाम सी हो गईं।

आज हम आपको बॉलीवुड की कुछ ऐसी ही अभिनेत्रियों के बारे में बताने वाले है जो अपने दौर में बॉलीवुड की धडकन कही जाती थी, लेकिन आज वह गुमनामी की जिंदगी जी रही है और उन्हें अब पहचान पाना भी बेहद मुश्किल हो गया है। यकीन मानिये इन्हें पहली नजर में देखने के बाद आप पहचान नही पाओगे। तो देर किस बात कि चलिए आपको उन अभिनेत्रियों के बारे में बताते है जो कभी बॉलीवुड की धड़कन हुआ करती थी लेकिन आज उन्हें पहचान पाना बेहद मुश्किल है।

अनु अग्रवाल

इस लिस्ट में जो पहला नाम शामिल है वो है 90 के दशक की मशहूर अभिनेत्री अनु अग्रवाल का |1990 में आई फ़िल्म ‘आशिकी’ से अभिनेत्री अनु अग्रवाल रातों-रात स्टार बन गयी थीं| ‘मैं दुनिया भुला दूंगा तेरी चाहत में…’ उन्हें देख कर कभी यह गीत ज़माने के होंठों पर तैरा करते पर आज इस दुनिया ने उन्हें भुला दिया है। शोहरत की बुलंदी से गुमनामी तक का उनका सफर बेहद ही दर्दनाक है। लेकिन, समय से उनकी लड़ाई हर किसी को प्रेरित करती हैं और खुद को संभाल लेने के लिए उनकी मिसाल दी जाती है|आठ हिंदी फिल्मों में काम करने वाली अनु का साल 1999 में एक्सीडेंट हो गया था। इस घटना ने अनु की जिंदगी और करियर पूरी तरह बदल दिया। इन सबके बारे में उन्होंने अपनी बायोपिक अनयुजुअल में डिटेल से बताया है| आज अनु पूरी तरह से ठीक हैं, लेकिन उन्होंने अपने आप को बॉलीवुड से अलग कर लिया है। अब वह बिहार के मुंगेर जिले में अकेले रहती हैं और लोगों को योग सिखाती हैं।

रीना रॉय

इस लिस्ट में दूसरा नाम आता है रीना रॉय का जो की 80 के दशक की सबसे मशहूर अभिनेत्रियों में से एक थी , जिनकी झलकभर से लाखों दिलों की धड़कने कभी थम जाया करती थीं और जिनकी अदाएं टूटे हुए दिलों को जोड़ने का सबब बनती थीं|अपने समय में रीना रॉय सबसे ज्यादा फीस लेने वाली अभिनेत्रियों में से एक थीं। उन्होंने अपना करियर साल 1972 में शुरू किया। लेकिन, साल 1976 में राजकुमार कोहली के निर्देशन में बनी फ़िल्म ‘नागिन’ में रीना रॉय ने इच्छाधारी नागिन की दमदार भूमिका निभाकर दर्शकों को रोमांचित कर दिया था। अगर फ़िल्मों की बात करें तो साल 2000 में जेपी दत्ता की फ़िल्म ‘रिफ्यूजी’ के ज़रिए रीना रॉय आख़िरी बार बड़े पर्दे पर दिखी थीं। इसके बाद 2004 के टीवी शो ‘ईना मीना डीका’ में रीना दिखाई दीं। इसके बाद रीना ग्लैमर की दुनिया से ओझल हो गई। शादी के बाद लंदन में रहने और फिर पारिवारिक कारणों के चलते पाकिस्तान में कुछ समय तक रहने के बाद रीना अब इंडिया में गुमनामी की ज़िंदगी जी रही हैं।

फराह नाज

इस लिस्ट में तीसरा नाम शामिल है अभिनेत्री फराह नाज का ,80 और 90 के दशक में अपनी खूबसूरती और अदाकारी से बॉलीवुड पर राज करने वाली हिरोइन फराह नाज ने कई हिट फिल्में दीं, लेकिन करियर के पीक पर शादी करके वो अचानक गायब हो गईं| अपनी पहली ही फिल्म से फराह ने लोगों का दिल जीत लिया और उसके बाद उन्हें कई फिल्मों का ऑफर मिला। करीब आठ सालों तक उन्होंने कई फिल्मों में काम किया। उस दौर के हर बड़े स्टार के साथ उन्होंने काम किया। 80 और 90 के दशक की मशहूर अदाकार फराह नाज ने 80 और 90 के दशक में फासले, नसीब अपना-अपना और यतीम जैसी कई सुपरहिट फिल्में दी| फराह इन दिनों फिल्मी दुनिया से दूर अपने पति और बेटे के साथ पारिवारिक जिंदगी बिता रही हैं।

शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *