मिडिल क्लास को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, 5 लाख तक की आय पर नहीं कोई टैक्स

शेयर करे

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल आज मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल का आखिरी और अंतरिम बजट सुबह 11 बजे से पेश किया। हालांकि, सरकार पहले ही स्पष्ट कर चुकी है कि यह वित्तवर्ष 2019-20 का पूर्ण बजट नहीं होगा। इसके बावजूद चुनावी साल होने की वजह से विभिन्न वर्ग सौगातों की उम्मीद कर रहे थे।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने आज मोदी सरकार के मौजूदा कार्यकाल का आखिरी और अंतरिम बजट पेश किया। मोदी सरकार ने जनता को बड़ा तोहफा देते हुए आयकर छूट की सीमा को बढ़ाकर 5 लाख कर दिया है। अब पांच लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। अंतरिम बजट का सबसे बड़ा ऐलान किया है।

सरकार की इस घोषणा से 3 करोड़ नौकरीपेशा लोगों को राहत मिलेगी। इसका सीधा मतलब यह हुआ कि अब साढ़े छह लाख तक की आय वालों को कोई टैक्स नहीं देना होगा। यही नहीं एफडी पर मिलने वाले ब्याज पर 40 हजार तक कोई टैक्स नहीं लगेगा। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने जैसे ही आयकर की सीमा ढाई लाख से बढ़ाकर 5 लाख करने की घोषणा की, वैसे ही लोकसभा में मोदी-मोदी के नारे लगने लगे।

अपडेट-

हमारी सरकार ने विकास को जन आंदोलन बनाया: वित्त मंत्री

देशवासियों के जोश से बदल रहा देश: वित्त मंत्री

अंतरिम बजट देश की विकास यात्रा का माध्यम: वित्त मंत्री

डेढ़ लाख तक के निवेश पर कोई टैक्स नहीं:वित्त मंत्री

नया घर बनाने वालों इनकम टैक्स में छूट मिलेगी: वित्त मंत्री

40 हजार तक के ब्याज पर TDS नहीं होगा : वित्त मंत्री

स्टैंडर्ड डिडक्शन 40 हजार से बढ़ाकर 50 हजार हुआ: वित्त मंत्री

टैक्स छूट से 3 करोड़ मिडिल क्लास वालों को फायदा होगा: वित्त मंत्री

संसद भवन में लगे मोदी-मोदी के नारे

5 लाख रुपये तक सालाना कमाने वालों को टैक्स नहीं भरना होगा

टैक्स छूट की सीमा बढ़ाकर 5 लाख की गई

2019-20 में वित्तीय घाटा 3 फीसदी रहने का अनुमान : वित्त मंत्री

भारत उपग्रह प्रक्षेपण का केंद्र बना: वित्त मंत्री

2022 से पहले मिशन गगनयान पूरा करेगी सरकार: वित्त मंत्री

8 साल में 10 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेंगे: वित्त मंत्री

न्यू इंडिया में इलेक्ट्रिक व्हीकल में सफर करेंगे लोग: वित्त मंत्री

2030 तक का रोडमैप पेश कर रहे हैं पीयूष गोयल

अगले 5 साल में 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था बनेगा भारत: वित्त मंत्री

नोटबंदी के बाद 1 करोड़ लोगों ने पहली बार टैक्स दिया : वित्त मंत्री

कालेधन को खत्म करके दम लेगी सरकार: वित्त मंत्री

नोटबंदी से भ्रष्टाचार की कमर टूटी: वित्त मंत्री

EPFO के अनुसार 2 करोड़ से अधिक लोगों को नौकरी मिली: वित्त मंत्री

घर खरीदने वालों पर GST कम करने की कोशिश: वित्त मंत्री

नई कंपनियों को 25 फीसदी कॉरपोरेट टैक्स देना होगा: वित्त मंत्री

GST लागू कर सरकार ने इतिहास रचा: वित्त मंत्री

टैक्स स्लैब के लिए अभी तक कोई ऐलान नहीं : वित्त मंत्री

24 घंटे में IT रिटर्न की प्रोसेस पूरी होगी: वित्त मंत्री

टैक्स मूल्यांकन के लिए दफ्तर नहीं जाना पढ़ेगा: वित्त मंत्री

टैक्स देने वालों की संख्या 80 फीसदी बढ़ी: वित्त मंत्री

ईमानदार करदाता का धन्यवाद देता हूं: वित्त मंत्री

12 लाख करोड़ रुपये का टैक्स जमा हुआ: वित्त मंत्री

बजट भाषण के दौरान लगे How’s the Josh के नारे

फिल्म शूटिंग के लिए अब सिंगल विंडो की व्यवस्था: वित्त मंत्री

डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर गेमचेंजर साबित हुई:वित्त मंत्री

अगले 5 साल में 1 लाख डिजिटल गांव बनेंगे:वित्त मंत्री

इंटरनेट डाटा खर्च में 50 गुना बढ़ोतरी हुई:वित्त मंत्री

मेघालय, त्रिपुरा को भी रेलवे का लाभ मिला : वित्त मंत्री

सौर ऊर्जा क्षेत्र में 10 गुना की बढ़ोतरी हुई: वित्त मंत्री

हर दिन 27 किलोमीटर हाइवे बन रहे हैं:वित्त मंत्री

मानव रहित क्रॉसिंग को खत्म कर दिया गया है: वित्त मंत्री

एविएशन सेक्टर में युवाओं को नौकरी दी: वित्त मंत्री

दुनिया में सबसे ज्यादा हाईवे भारत में बन रहे हैं: वित्त मंत्री

पहली बार रक्षा बजट 3 लाख करोड़ से ज्यादा: वित्त मंत्री

वन रैंक वन पेंशन के तहत 35 हजार करोड़ दिए: वित्त मंत्री

आज का युवा नौकरी दे रहा है: वित्त मंत्री

मुद्रा योजना के तहत 5 करोड़ से अधिक लोन दिए गए: वित्त मंत्री

उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ गैस कनेक्शन देंगे: वित्त मंत्री

ज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ गैस कनेक्शन देंगे: वित्त मंत्री

वेलफेयर डेवलेपमेंट बोर्ड का गठन करेगी सरकार: वित्त मंत्री

इस योजना से 10 करोड़ मजदूरों को लाभ मिलेगा: वित्त मंत्री

इस योजना में आधी राशि केंद्र सरकार देगी:वित्त मंत्री

हर महीने सिर्फ 50 रुपये की राशि जमा करनी होगी: वित्त मंत्री

15 हजार कमाने वालों को मिलेगी पेंशन: वित्त मंत्री

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन का ऐलान: वित्त मंत्री

ग्रेच्युटी की सीमा को 10 लाख से बढ़ाकर 20 लाख किया: वित्त मंत्री

श्रमिकों को अब 7000 रुपये तक बोनस मिलेगा: वित्त मंत्री

21000 प्रति माह कमाने वालों को मिलेगा बोनस: वित्त मंत्री

किसान सम्मान निधि योजना के लिए 75 हजार करोड़: वित्त मंत्री

समय से लोन चुकाने वाले मछुआरों को ब्याज में छूट : वित्त मंत्री

किसान क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने वालों को मिलेगा लाभ: वित्त मंत्री

मछुआरों को ब्याज में 2 फीसदी की छूट: वित्त मंत्री

गौ माता का पूरा ध्यान करेगी मोदी सरकार:वित्त मंत्री

राष्ट्रीय कामधेनु आयोग का गठन किया जाएगा: वित्त मंत्री

राष्ट्रीय गोकुल मिशन के लिए 750 करोड़ रुपये: वित्त मंत्री

मार्च 2019 तक देश के सभी घरों में बिजली उपलब्ध कराई जाएगी, सौभाग्य योजना के तहत मुफ्त बिजली उपलब्ध कराई जाएगी : वित्त मंत्री

स्वच्छ बैंकिंग व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए 4R दृष्टिकोण और कई उपाय लागू किए गए हैं: वित्त मंत्री

फसलों का एमएसपी लागत डेढ़ गुना किया। प्रधानमंत्री किसान निधि योजना को मंजूरी। 2 हेक्टेयर तक की जमीन वाले किसान को हर साल 6 हजार रुपये मिलेंगे। किसानों के खाते में 3 किश्तों में पैसे जाएंगे: वित्त मंत्री

भारत अब मजबूती के साथ विकास और समृद्धि की ओर आगे बढ़ रहा है: वित्त मंत्री

गरीबों को सस्ता अनाज उपलब्ध कराने के लिए वर्ष 2018-19 में 1,70,000 करोड़ रु. का व्यय किया गया : वित्त मंत्री

गरीबों के लिए भी 10% आरक्षण की व्यवस्था की गई : वित्त मंत्री

लगभग 5.45 लाख गांव खुले में शौच से मुक्त हुए है: वित्त मंत्री

पारदर्शिता के नए युग की शुरुआत, हमने भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चलाई:वित्त मंत्री

सरकारी बैकों की वित्तीय स्थिति मजबूत करने के लिए 2.6 लाख करोड़ रु. का निवेश किया गया: वित्त मंत्री

2018-19 के संशोधित अनुमान में राजकोषीय घाटे को 3.4% तक लाया गया है: वित्त मंत्री

दिसंबर 2018 में मुद्रास्फीति महज 2.1% थी: वित्त मंत्री

बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि हमारी सरकार ने कमरतोड़ महंगाई की कमर तोड़ दी है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में संसद भवन के अंदर कैबिनेट बैठक शुरू हो गई है।

रेलवे के वित्त राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा, ‘जिस तरह से सरकार ने रेलवे में निवेश बढ़ाया है, जिसमें सीसीटीवी लगाने से लेकर वाईफाई तक शामिल है मेरा मानना है कि रेलवे में निश्चित रूप से और निवेश बढ़ेगा।’

ब्रीफकेस के साथ वित्त मंत्री पीयूष गोयल संसद पहुंचे। 11 बजे पेश करेंगे साल 2019-2020 का बजट।

बजट पेश करने से पहले वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति से मुलाकात की।

केंद्रीय संसदीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा, ‘सबका साथ, सबका विकास हमारी सरकार का मंत्र है और यह 2019 के बजट में दिखाई देगा।’

संसद में बजट दस्तावेजों को पहुंचा दिया गया है। 2 घंटे बाद पेश होगा 2019 का अंतरिम बजट।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषणों में कई बार युवाओं का जिक्र किया है। युवा को इस बजट से काफी उम्मीदें हैं, इनमें सस्ती शिक्षा और रोजगार के अवसर मुख्य रूप से शामिल हैं। युवाओं को उम्मीद है कि सरकार इस बजट में सस्ते में उच्च शिक्षा के अवसर, नौकरी ना मिलने तक बेरोजगारी भत्ते की सुविधा, गरीब छात्रों के लिए उच्च शिक्षा के लिए ब्याजमुक्त ऋण जैसी मांगे अहम हैं।

चुनावी साल होने के कारण मोदी सरकार का खास फोकस ग्रामीण भारत पर अधिक है। वह अंतरिम बजट 2019 में ग्रामीण कल्याण पर अपने खर्च को बढ़ा सकती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फोकस आम चुनावों में ग्रामीण भारत के वोटर्स को लुभाने पर ज्यादा है। वह गांवों के वोटर्स को लुभाने के लिए ग्रामीण कल्याण पर अपना खर्च 16 फीसदी बढ़ा सकती है।

शेयर करे

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *