ये कैसी प्रथा, यहां पांच लोग मिलकर उतारते हैं लड़की के वस्त्र, फिर…

शेयर करे

आज हम आपकाे उस प्रथा के सम्बन्ध में जानकारी देंगे, जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे। इस प्रथा में एक लड़की के 5 लाेग मिलकर वस्त्र उतारते हैं। ऐसा तब किया जाता है जब लड़की के बालों में लट पड़ जाए।

बता दें कि गरीब परिवारों में साबुन से न स्नान करने या फिर गंदगी में रहने की वजह से ऐसा होता है, तो उस लड़की को भगवान को समर्पित करना होगा। एक आयोजन में लड़की को मंदिर को समर्पित किया जाता है, जहां 5 लोग मिलकर उसके वस्त्र उतारते हैं।

तत्पश्चात उस लड़की का जीवन भर विवाह भी नहीं होता है। वे मंदिरों में ही निवास करती हैं। उन्हें सार्वजनिक सम्पति माना जाता है। बड़ी संख्या में देवदासियां आखिरी में वेश्यालयों में पहुंच जाती है।

कर्नाटक के मंदिरों में राज्य सरकार की माने तो, 9,733 देवदासियां हैं। मुंबई में उन्होंने अपने वस्त्र उतारकर प्रदर्शन किया था। जानकारी के मुताबिक, ये प्रथा किसी न किसी रूप में भारत के अनेक हिस्सों में जारी है।

शेयर करे