एम्स से आई अरुण जेटली को लेकर ये बेहद बुरी खबर

शेयर करे

देश के पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता अरुण जेटली पिछले कई दिनों से दिल्ली के एम्स में भर्ती हैं। उनकी सेहत काफी खराब है और वो एक हफ्ते से वहां भर्ती हैं। उनको सांस लेने में समस्या हो रही थी, इसी वजह से उनको एम्स में भर्ती करवाया गया था। शनिवार को अरुण जेटली को लेकर बेहद बुरी खबर आई है। आइए जानें वो खबर क्या है

जानें क्या है वो बुरी खबर

अरुण जेटली को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी, जिसके बाद उनको एम्स लाया गया था। यहां चिकित्सकों ने जांच की तो पता लगा कि उनके फेफड़े में पानी भर गया है जिस वजह से वो सांस नहीं ले पा रहे थे और उनके दिल पर बहुत ज्यादा जोर पड़ रहा था। हालांकि शनिवार को उनकी हालत और ज्यादा बिगड़ गई है। उनको वेंटिलेटर पर रखा गया था लेकिन अब उनकी सेहत वहां भी नहीं संभल रही है। इसके बाद उनको वेंटिलेटर से हटाकरईसीएमओ यानीएक्सट्राकॉर्पोरियल मेंब्रेन ऑक्सीजिनेशन पर रख दिया गया है। ईसीएमओ पर रखने का मतलब होता है कि जब फेफड़े और दिल दोनों ही ठीक से काम नहीं कर रहे होते हैं, तब ईसीएमओ पर रखा जाता है।

मायावती समेत बड़े नेता हाल जानने पहुंचे

अरुण जेटली की हालत नाजुक जानने के बाद बड़े-बड़े नेताओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती उनका हाल जानने एम्स पहुंचीं। उन्होंने जेटली के परिवार से मुलाकात की। इसके अलाना राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह भी पहुंचे। जेटली की सेहत की खबर सुनते ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी एम्स आए, वहीं कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी भी पहुंचे। सीएम नीतीश कुमार भी उनको हाल जानने बिहार से दिल्ली आ रहे हैं।

शेयर करे