लिपोमा से ग्रसित थे अमित शाह

शेयर करे

बुधवार को गृहमंत्री अमित शाह ने अहमदाबाद के केडी मेडिकल कॉलेज में एक “लिपोमा” नाम की बीमारी की सर्जरी करायी थी। वह इसके इलाज के लिए सुबह 9 बजे अस्पताल में पहुंचे थे, जिसके बाद अस्पताल ने उनकी सर्जरी कर के आज ही वापस भेज दिया था। वह इस लिपोमा से काफी ज्यादा परेशान थे। जिस कारण अंत में उन्हें इसका ऑपरेशन कराना ही पड़ा। लोग उनके इस ऑपरेशन के बाद उनके स्वास्थ्य की चिंता कर रहे हैं और उनका हाल-चाल पूछ रहे हैं।

लिपोमा एक गांठ होती है, जो शरीर के किसी भी हिस्से में वसा की मात्रा बढ़ जाने से होती है। यह अधिकांश स्किन के आंतरिक हिस्से में होती है। इसके ज्यादातर होने की संभावना कंधे, छाती, जांघों और अंडरआर्म के हिस्स में बनती है। यह एक तरह  के साधारण फोड़े की तरह ही होता है, अंतर यह है कि फोड़ा स्किन के बाहरी हिस्से में होता है और लिपोमा आंतरिक हिस्से में होता है।

बता दें कि ये गांठ नॉन कैंसर होती हैं लेकिन इसमें बहुत दर्द होता है और कई बार यह स्किन से बाहर के हिस्से में निकल आती हैं, जो देखने में बहुत ही खराब लगती हैं, इसलिए लोग इसे हटाना ही उचित समझते हैं। फिल्हाल अब अमित शाह ठीके ।

शेयर करे