वीजा फ्री यात्रा पूरे साल खुला रहेगा करतारपुर कॉरिडोर

शेयर करे

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर आज भारत और पाकिस्तान के अधिकारियों की बैठक है और इस बैठक में कई अहम मुद्दों पर चर्चा हो सकती है । इस दौरान भारत की ओर से जाने वाले सिख श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की एंट्री फीस या परमिट फीस से राहत देने में, 10 हजार श्रद्धालुओं को दर्शन की परमिशन, पाकिस्तान की तरफ रावी नदी पर पुल के निर्माण का मुद्दे पर बात हो सकती है ।

इसके अलावा दोनों देशों के बीच करतारपुर साहिब के दर्शन की टाइमिंग पर भी चर्चा होगी । मसलन भारत की ओर से प्रतिदिन श्रद्धालु कितने बजे आएंगे, और कितने देर तक दर्शन कर सकेंगे,  कब वापस जाएंगे जैसे टॉपिक चर्चा होंगे और इसके अलावा सुरक्षा के प्रबंध, यात्री टर्मिनल में लगाए जाने वाले दोनों देशों के झंडों की ऊंचाई और नवंबर में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के दौरान दोनों देशों की ओर से आने वाले संभावित वीवीआईपी लोगों के नाम पर भी चर्चा हो सकती है ।

रिपोर्ट के मुताबिक करतारपुर साहिब में एक भारतीय काउंसुलेट स्थापित करने पर भी बात हो सकती है , ताकि जरूरत पड़ने पर दर्शन के लिए आए लोग काउंसुलेट से संपर्क स्थापित कर सकें और पाकिस्तान की ओर से विदेश कार्यालय के प्रवक्ता और दक्षिण एशिया और सार्क महानिदेशक मोहम्मद फैसल पाकिस्तानी पक्ष का नेतृत्व करेंगे । बैठक के दौरान दोनों देशों द्वारा कॉरिडोर को गुरु नानक देव के 550 वीं जयंती पर नवंबर में खोलने के मसौदा समझौते को अंतिम रूप दिए जाने की उम्मीद है।

शेयर करे