इस क्रिकेटर की दोनों किडनी हुई फेल, CM योगीजी से मदद मांगी तो मिला ये जवाब..

शेयर करे

हम क्रिकेट को धर्म और क्रिकेटरों को भगवान मानते हैं. किस क्रिकेटर की ज़िन्दगी में क्या चल रहा है क्यों चल रहा है ये सब हम जानने के लिए ऐसे उत्सुक दिखाई देते हैं जैसे मानो वो हमारे घर का किस्सा हो, लेकिन कई बार क्या होता है ना कि हम बड़े-बड़े और क्रिकेट में धाक जमा चुके क्रिकेटर्स की ही ज़िन्दगी के बारे में जानते हैं और बस हो गया.

इन दिनों एक क्रिकेट खिलाड़ी जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहा है. अंडर-16 पाली उमरीगर ट्रॉफी खेल चुके आदित्य पाठक का भविष्य संकट में है. आदित्य पाठक की दोनों किडनी फेल हो चुकी हैं. ऐसे में भारतीय तेज गेंदबाज आरपी सिंह उनकी आर्थिक मदद के लिए सबसे पहले सामने आए हैं और दूसरे लोगों से भी मदद की अपील कर रहे हैं. आदित्य पाठक की दोनों किडनी खराब चुकी है और उनके घर की भी माली हालत ठीक नहीं है. आदित्य के घर की आर्थिक स्थिति सही नहीं होने की वजह से उनके इलाज के लिए पैसे भी नहीं हैं.

मदद की गुहार पर ये था सीएम योगी का रिएक्शन

बताया जा रहा है आदित्य के इलाज़ के लिए काफी पैसों की ज़रूरत है ऐसे में आर पी सिंह ने एक उचित कदम उठाते हुए सीएम आदित्यनाथ से मदद मांगी और सीएम ने भी इसे अपना फ़र्ज़ समझते हुए आदित्य की मदद के लिए बिना सोचे समझे हामी भर दी है. बात अगर आदित्य की करें तो आदित्य पाठक अंडर-16 पाली उमरीगर ट्रॉफी खेल चुके हैं लेकिन  उनका जीवन अधर में है. ऐसे में इस खिलाड़ी की मदद के लिए सबसे पहले आर पी सिंह सबसे पहले सामने आये थे.

उन्होंने अपने पद की ज़िम्मेदारी समझते हुए इस बात की जानकारी यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ तक पहुंचाई.

आरपी सिंह ने टि्वटर पर आदित्य के लिए मदद मांगते हुए लिखा है कि, यूपी के युवा क्रिकेटर आदित्य पाठक की सहायता करें, इनकी दोनों किडनियां खराब हो गई हैं और वह दिल्ली अपोलो हॉस्पिटल में जिंदगी की लड़ाई लड़ रहे हैं.”

आर पी सिंह के इस ट्वीट को देखने के बाद उन्हें यूपी सरकार ने संपर्क किया और आदित्य पाठक की पूरी जानकारी मांगी है. यूपी सीएम ऑफिस ने अपने ट्वीट में लिखा कि, “कृपया उनका (आदित्य) पता और फोन नंबर शेयर करें, साथ ही अस्पताल के खर्चे का एक एस्टीमेट भी शेयर करें. हर मुमकिन सहायता करने की कोशिश की जाएगी.” 

बताया जा रहा है कि 2009 में एक बार किडनी आदित्य की फेल हो चुकी हैं, जिसके बाद से उनके पिता ने किसी तरह खुद के पैसो से इलाज करवाया था, लेकिन अब एक बार फिर उनकी किडनी खराब हो गई है, लेकिन इस बार उनके पास इलाज के लिए पैसे नहीं हैं. आदित्य की दोनों किडनी के ट्रांसप्लांट के लिए लगे पैसे के कारण उन्हें अपना घर भी गिरवी रखना पड़ा था.

शेयर करे