हरतालिका तीज के दिन महिलाएं भूलकर भी न करें ये 7 काम !

शेयर करे

सबसे पहले तो सभी माताओं को, बहनों को, कन्याओं को और सौभाग्यशाली महिलाओं को हरतालिका तीज की बहुत-बहुत शुभकामनाएं . दोस्तों हरतालिका तीज का व्रत महिलाओं के लिए सबसे कठिन व्रत होता है. यह व्रत भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया को मनाया जाता है. इस दिन सभी सौभाग्यवती महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं. परंतु अगर स्वास्थ्य से संबंधित कोई समस्या हो या कोई गर्भवती महिला हो तो वह दूध और फलाहार करके यह व्रत पूरा कर सकती हैं .

इस दिन सभी व्रत करने वाली महिलाओं को पूजन, अर्चन, कथा श्रवण आदि करना चाहिए. इस दिन सभी माताएं, बहने, धूमधाम से भगवान शिव और मां पार्वती की पूजा करती हैं .दोस्तों, इस व्रत को सुहागन महिलाएं तो रखती ही हैं साथ में कुंवारी कन्याएं अच्छे वर की प्राप्ति के लिए भी इस व्रत को करती हैं . इसीलिए यह व्रत सबके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है.

Source-Google

ऐसा माना जाता है कि करवाचौथ से भी बड़ा व्रत हरितालिका तीज का होता है . हरितालिका तीज का व्रत सोलह सिंगार से युक्त होता है जो स्त्रियां इस व्रत को सोलह सिंगार करने के बाद करती हैं ,वह इस व्रत का बहुत अच्छा फल प्राप्त करती हैं . तो आज हम आपको बताएंगे कि ऐसे कौन कौन से काम है जो इस व्रत वाले दिन आपको नहीं करने चाहिए .क्योंकि माता पार्वती ने कठोर तपस्या करके इस व्रत को किया था इसलिए आपको भी हर हाल में व्रत के दिन बेहद सावधानी बरतनी चाहिए .

दोस्तों पति पत्नी के रिश्ते की बुनियाद ही प्रेम और विश्वास पर टिकी होती है। इस दिन सुहागन महिलाएं अपने पति से किसी भी तरह का छल कपट और धोखा ना करें. इस दिन पति के साथ बिल्कुल भी झूठ ना बोलें। उनसे कोई दुर्व्यवहार ना करें, विवाद ना करें, झगड़ा ना करें .इस दिन दूसरों की बुराई या निंदा बिल्कुल ना करें। अन्यथा आपका व्रत निष्फल हो जाएगा .

दोस्तों इस दिन सोलह सिंगार का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन महिलाएं सजती हैं ,नए कपड़े पहनती हैं . इस दिन सुंदर परिधान व वस्त्र-गहने धारण करने चाहिए ,इससे माता पार्वती और शिव जी प्रसन्न हो जाते हैं. दोस्तों हरतालिका तीज के दिन काले वस्त्र बिल्कुल भी धारण नहीं करनी चाहिए और सौभाग्यवती महिलाओं के लिए सफेद वस्त्र बिल्कुल भी नहीं पहनने चाहिए .

सभी महिलाओं को इस दिन रंग-बिरंगे सुंदर कपड़े पहनने चाहिए और विशेष ध्यान रखना चाहिए कि इस दिन सफेद और काले कपड़ों का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें .साथ ही सबसे महत्वपूर्ण बात हरितालिका तीज का व्रत 24 घंटे का होता है. अतः इस दिन सभी पति पत्नी को ब्रह्मचर्य वृत्त का भी पालन करना चाहिए .

शेयर करे