मां, पिता, बहन और पत्नी की हत्या, बेटे ने सिर्फ इसलिए सबको मार डाला क्योकि….

शेयर करे

प्रयागराज में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या से सनसनी फैल गई थी। जिनमे में तीन महिलाएं और एक पुरुष की हत्या की गई थी। परिवार के एक साथ चार लोगों की हत्या पुलिस के लिए एक पहेली बनकर रह गयी थी और समझ से परे था। इनकी हत्या किस वजह से की गई ये भी पता नही चल पा रहा था। मौके पर पुलिस की कई टीमें पहुंच कर पड़ताल में जुट गई थी। लेकिन जब पुलिस ने इस घटना का खुलासा किया तो खुलासा चौकाने वाला था क्योंकि इस निर्मम हत्या कांड का मास्टरमाइंड कोई और नही बल्कि उस घर का बेटा ही था। जिसने अपने ही पिता,माँ ,बहन और पत्नी की हत्या की साजिश रची थी।

प्रयागराज के धूमनगंज थाना अंतर्गत प्रीतमनगर क्षेत्र में गुरुवार को एक परिवार के चार लोगों की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। मरने वालों मे पति,पत्नी, बहू और एक बेटी थी। घटना के बाद से ही इलाके में दहशत का माहौल था।

घटना के बाद पुलिस ने बताया था कि धूमनगंज के प्रीतमनगर में रहने वाले 55 वर्षीय तुलसी राम केसरवानी अपनी पत्नी किरण, बेटी गुडिय़ा, बेटा आतिश और बहू प्रियंका के साथ रहते थे। गुरुवार दोपहर में बेटा आतिश किसी को पैसा देने के लिए घर से निकला था और उस वक़्त घर में तुलसीराम उनकी पत्नी, बेटी और बहू थे। इसी दौरान तुलसीराम समेत चारों लोगों की गला रेतकर हत्या कर गयी थी। कुछ देर बाद जब बेटा घर लौटा तो कमरे में पिता, मां, पत्नी और बहन की खून से लथपथ लाश पड़ी थी।

घटना के बाद से ही बेटा आतिश पुलिस के शक के घेरे में था। फिर पुलिस ने इस घटना के हर पहलू पर अपनी जांच शुरू कर दी और पुलिस को इस घटना का खुलासा करने में ज्यादा देर नही लगी। पुलिस ने जो खुलासा किया उसे सुनकर हर कोई आश्चर्य में पड़ गया क्योंकि की साजिश रचने वाला कोई और नही बल्कि बेटा आतिश था जिसने अपने दोस्त के साथ मिलकर इस घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि आतिश का एक महिला से सबंध था जिसका पूरे परिवार के लोग विरोध कर रहे थे लेकिन आतिश घर वालो की बातों को अनसुना करते हुए उस महिला से सबंध बनाये रखा। जिसके चलते आतिश की बहन ने एक दिन पहलेसोशल मीडिया पर अपने भाई और उस महिला की फ़ोटो वायरल कर दी। आतिश को ये बात नागवार लगी और उसने अपनी बहन की इस हरकत पर अपने पूरे परिवार को खत्म करने की साजिश रच डाली।

पुलिस की माने तो आतिश ने इस हत्या कांड को अंजाम देने के लिए अपने दोस्त अनुज उसके मामा कृष्णा और उनके एक साथी को आठ लाख रुपये की पेशकश की थी। जिसके बाद इन सभी लोगो ने इस निर्मम हत्या कांड को अंजाम दे डाला और आतिश ने इस घटना को एक दूसरा ही रूप देने में लग गया था। फिलहाल पुलिस ने इस घटना में आतिश और उसके दोस्त अनुज को गिरफ्तार कर लिया है बाकी दो और अभियुक्तों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस प्रयास कर रही है।

शेयर करे